Takneeki Guru

इंटरनेट क्या है ? इन्टरनेट का इतिहास – Amazing Information About Internet

Rate this post

इंटरनेट क्या है? दोस्तों आज के समय में इंटरनेट का इस्तेमाल कौन नहीं करता है। इंटरनेट आज लोगों की मूलभूत जरूरत बन चुका है। ऐसा लगता है जैसे इंटरनेट हम इन्सानों का एक अभिन्न अंग बन गया है। इनटरनेट हमारे लिये इतना उपयोगी सिद्ध हो गया है कि इसके बिना जीवन की कल्पना करना मुश्किल हो जाती है। क्योंकि आज की पीढ़ी खासकर युवा पीढ़ी बिना खाए पीए और बिना सोये रह सकती है लेकिन बिना इंटरनेट के नहीं रह सकती।

इसका सबसे बडा कारण यह है कि आज इंटरनेट का उपयोग घर के अन्दर से लेकर बाहर तक हर स्थान पर देखा जा रहा है। इंटरनेट का उपयोग Entertenment के लिये, Online Railway Ticket के लिए, हवाई जहाज के टिकट के लिए, Banking के लिये, Online Shoping के लिए, मोबाइल रिचार्ज करने के लिए, फोन एवं बिजली का बिल भरने के लिए Online पढाई करने के लिए, व्यवसाय के प्रचार प्रसार के लिए, एक दूसरे व्यक्ति से सम्पर्क करने के लिए, वीडियो काॅल करने के लिए, और इतना ही नहीं आप भी इस आर्टिकल को इंटरनेट से ही पढ़ रहे हैं। 

आज के समय में जिसे देखो वह दिन भर मोबाइल का इस्तेमाल करता रहता है। क्योंकि इंटरनेट बिज़नेस से लेकर मनोरंजन एवं दूरसंचार का प्रमुख साधन बन गया है। आज जहाँ इंटरनेट की वजह से मानव जीवन बहुत आसान हो गया है वहीं हमारे लिये बहुत सी समस्याएँ भी उत्पन्न हो गई हैं। 

गूगल पर लोग अक्सर इंटरनेट से सम्बन्धित कई सवाल पूछते हैं जैसे – इंटरनेट क्या है ? इंटरनेट का मालिक कौन है ? इंटरनेट की खोज किसने की ? इंटरनेट क्या है इसके लाभ क्या हैं ? इंटरनेट भारत में कब आया एवं इंटरनेट का इतिहास। आज के इस लेख में हम इन सभी सवालों के जवाब देने वाले हैं।

इस तरह ना जाने इंटरनेट से सम्बन्धित कितने ही सवाल आपके मन में आते होंगे। लेकिन आज आपको सोचने की जरूरत नहीं है क्योंकि हम आज के इस आर्टिकल में इंटरनेट से जुड़ी हर प्रकार की जानकारी देने वाले हैं। चलिए सबसे पहले जान लेते हैं कि इंटरनेट क्या है और इंटरनेट की फुल फाॅर्म क्या होती है ?

इंटरनेट क्या है – What is Internet in Hindi

इंटरनेट क्या है ? इंटरनेट एक ऐसा साधन है जिसके माध्यम से दुनियाँ भर में स्थित कम्प्यूटर एवं अन्य डिवाइस को आपस में कनेक्ट करके डाटा का आदान-प्रदान किया जाता है।
 
Internet का फुलफाॅर्म Interconnected Network होता है। यह एक ऐसा नेटवर्क होता है जो एक कम्प्यूटर को दूसरे कम्प्यूटर से जोड़ता है। आसान भाषा में कहें तो इंटरनेट एक ऐसा Globle Network  होता है जिसके माध्यम से भिन्न-भिन्न स्थानों पर डाटा का आदान प्रदान करने के लिए एक दूसरे से कनेक्ट होते हैं।
यह डाटा को ईमेल, सोशल नेटवर्किंग, ई-काॅमर्स, चेटिंग एवं वीडियो काॅन्फ्रेंसिग आदि के द्वारा Exchange करते हैं।

इन्टरनेट का इतिहास – History of Internet

  1. सबसे पहले अमेरिका के रक्षा विभाग के द्वारा सन् 1969 में ARPA यानी किAdvance Research Projects Agency नामक एक नेटवर्क को लाॅन्च किया गया। जिसे secret information को भेजने के लिए उपयोग किया जाता था।
  2. पहली बार सन् 1969 में बहुत से कम्प्यूटर को जोड़कर एक नेटवर्क को बनाया गया था। इस नेटवर्क के बीच सन्देश को भेजा गया था। बाद में इसके बहुत से फायदों के बारे में पता लगने के बाद इसका उपयोग और भी बढ़ने लग गया। चलिए जानते हैं कि इंटरनेट शुरु होने से लेकर हम तक कैसे पहुंचा। 
  3. सबसे पहले अमेरिका के defence department नें सन् 1969 में ARPA यानी किAdvance Research Projects Agency नामक एक प्रोजेक्ट शुरू किया
  4. Advance Research Projects Agency Network को War के बीच Secret Information भेजने के लिए डेवलप किया गया।
  5. Retanolines पहली बार 1972 ई. में ईमेल मेसेज भेजा। इस प्रकार इसका इस्तेमाल दिन प्रतिदिन बढ़ने लगा और लोकप्रिय होता गया।
  6. इंटरनेट का पहली बार Technology  के रूप में उपयोग British Post Office में Technology के रूप में उपयोग किया गया।
  7. इसके बाद धीरे धीरे 1984 के शुरु तक इंटरनेट से लगभग एक हजार कम्प्यूटर जुड़ गए थे।
  8. इसके बाद इसका उपयोग अन्य क्षेत्रों में भी होने लगा तथा इसके साथ-साथ इसका Network फैलता चला गया, जो कि अभी भी देखा जा सकता है।

इंटरनेट की खोज किसने किया – Who Invented The Internet

इंटरनेट की खोज के पीछे किसी एक व्यक्ति के बस की बात नहीं है इसके पीछे बहुत सारे लोगों का हाथ था। इंटरनेट की खोज बहुत सारे scientist और Engineer ने मिलकर की थी।
अमेरिका ने एक कम्प्यूटर को दूसरे कम्प्यूटर से जोड़ने के लिए सन् 1957 ई. में विश्व युद्ध के समय  Advanced Research Project Agency की स्थापना की थी।
Advanced Research Project Agency नें 1969 में ARPANET की स्थापना की जिसका उद्देश्य एक कम्प्यूटर को दूसरे कम्प्यूटर से जोड़ना था। 1980 में इसका नाम इंटरनेट पड़ गया।

इन्टरनेट का मालिक कौन है ? Owner of Internet

इंटरनेट से जुड़े ऐसे ही कई सवालों में से एक सवाल ये भी है कि इंटरनेट का मालिक कौन है ? अक्सर लोगों के मन में एक सवाल होता है कि हम दिन-रात जिस इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं उसका मालिक कौन है ? लोगों के मन में एक सवाल ये भी आता होगा कि हम लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए किसी कम्पनी ( एयरटेल, आइडिया, जियो, वोड़ाफोन या फिर कोई अन्य कम्पनी ) से रिचार्ज करवाते हैं तो हम इन कम्पनियों को जो पैसा देते हैं वो कम्पनियाँ उस पैसे को किसे देती हैं।
चलिए जानते हैं कि इंटरनेट का मालिक कौन है तो हम आपको बता दें कि इंटरनेट का कोई एक मालिक नहीं होता इंटरनेट पर किसी एक व्यक्ति विशेष का अधिकार नहीं है। और ना ही किसी एक देश या उसकी सरकार इंटरनेट का मालिक है। इसमें बहुत सारी कम्पनियाँ शामिल हैं।

इंटरनेट का उपयोग – Uses Of Internet

जैसा कि आप जानते हैं कि इंटरनेट का इस्तेमाल एक कम्प्यूटर को दूसरे कम्प्यूटर से जोड़ने अथवा एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस पर डाटा को भेजने या प्राप्त करने के लिए किया जाता है। लेकिन आज के समय में इसका दायरा इतना फैल गया है कि यह हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग बन गया है।

इंटरनेट के उपयोग नीचे दिए जा रहे हैं –

  • Entertenment 
  • Shoping
  • Banking
  • Online Study
  • Video Calling
  • Online Ticket Booking
  • News Reading
  • Mobile Or Electricity bill Pay
  • business promotion
  • advertising
  • For any kind of information etc.

इंटरनेट से फायदे – Benefits of Internet

इंटरनेट मानव जीवन का एक अहम हिस्सा बन पाने के पीछे इंटरनेट से होने वाला लाभ है। क्योंकि इंटरनेट की वजह से बहुत सारी चीजें आसान हो गई हैं। इंटरनेट से होने वाले लाभ के बारे में नीचे बताया जा रहा है।
इंटरनेट के माध्यम से हम घर से ही ऑनलाइन पढाई कर सकते हैं, मोबाइल का रिचार्ज, फोन अथवा बिजली का बिल जमा करना, घर बैठे शाॅपिंग करना, इंटरनेट के माध्यम से रेलवे एवं हवाई जहाज का टिकट बुक कर सकते हैं, ऑनलाइन इंटरनेट की सहायता से किसी भी व्यक्ति को पैसे भेज सकते हैं, ईमेल भेज सकते हैं, मनोरंजन जैसे – टीवी, फिल्म, समाचार, गेम, आदि का आनन्द उठा सकते हैं, और साथ ही हम इंटरनेट की मदद से पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड डाउनलोड, राशन कार्ड आदि बहुत सारे महत्वपूर्ण दस्तावेजों को बना अथवा प्राप्त कर सकते हैं।

इंटरनेट से होने वाले नुकसान – Disadvantages of Internet

दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता है कि जिस चीज से हमे फायदा होता है तो उसी चीज से हमे नुकसान भी होता है। उसी प्रकार इंटरनेट से भी हमे फायदे के साथ-साथ नुकसान भी होता है।  तो चलिेए इंटरनेट से होने वाले नुकसान के बारे में जान लेते हैं।

इंटरनेट से व्यक्ति को नुकसान तब होता है जब वह उसका आदी हो जाता है। क्योंकि वह दिन रात मोबाइल से चिपका रहता है। जिसके कारण उसकी आँखों की रोशनी कम हो जाती है। और साथ ही समय की बर्बादी भी होती है। इसके साथ आपके मोबाइल में वायरस का भी खतरा होता है, और हैकर्स द्वारा आपकी व्यक्तिगत जानकारी चुराने का खतरा भी बना रहता है।

जो कि आपके लिए आर्थिक एवं मानसिक रूप से हानिकारक हो सकती है। इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए आपको रिचार्ज करना पड़ता है जिसमें आपको पैसे खर्च करने पड़ते हैं जो कि आपको नुकसान ही होता है।

दोस्तों इस प्रकार आप समझ गए होंगे कि इंटरनेट क्या है ? आशा करता हूँ कि आपको इंटरनेट क्या है के बारे में समझ आ गया होगा। अगर आपको यह लेख पसन्द आए तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर जरूर करें ताकि और लोग भी जान सकें कि इन्टरनेट क्या है। और अगर आपके मन में कोई सवाल है तो हमे कमेन्ट के माध्यम से जरूर बताएँ।

निष्कर्ष – इंटरनेट क्या है ?

दोस्तों उम्मीद है आपको इंटरनेट क्या है ? एवं इंटरनेट का इतिहास के बारे में यहां जो जानकारी मिली है वह आपकी समझ में आ गई होगी। इंटरनेट क्या है ? इसे जानना बहुत ही आसान और महत्वपूर्ण था। अगर आपको हमारी ये पोस्ट इंटरनेट क्या है ? एवं इंंटरनेट का इतिहास और इससे जुड़ी बहुत सारी पसन्द आई है तो इस पोस्ट को दूसरों के साथ भी शेयर जरूर करें।

Takneekiguru.Com Is A Platform Where You Can Get All Kinds Of Information Related To Technology, Blogging, Online Services, Computer, Smartphone, Internet And Earn Money Online Etc.

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock